मुख्यमंत्री द्वारा राज्यपाल को पत्र लिखकर पंजाब काडर के आई.पी.एस. अधिकारी को समय से पहले चंडीगढ़ के एस.एस.पी. के पद से हटाने पर रोष किया प्रकट

चंडीगढ़:  पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने 13 दिसम्बर राज्य के राज्यपाल और चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित को पत्र लिखकर चंडीगढ़ के एस.एस.पी. के पद से पंजाब काडर के आई.पी.एस. अधिकारी को हटा देने पर रोष ज़ाहिर किया है। पंजाब के राज्यपाल को लिखे पत्र में मुख्यमंत्री ने उनको अवगत करवाया कि केंद्र शासित प्रदेश, चंडीगढ़ के एस.एस.पी. के पद पर पारंपरिक तौर पर पंजाब काडर का आई.पी.एस. अधिकारी ही तैनात होता है।

इसी तरह यू.टी. का डिप्टी कमिश्नर हरियाणा काडर का आई.ए.एस. अधिकारी नियुक्त होता है। भगवंत मान ने कहा कि उनको यह जानकर हैरानी हुई है कि पंजाब काडर के साल 2009 के आई.पी.एस. अधिकारी कुलदीप सिंह चाहल को समय से पहले ही पंजाब वापस भेज दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि राज्य के लिए यह और भी दुख की बात है कि चंडीगढ़ के एस.एस.पी. के पद पर हरियाणा काडर का आई.पी.एस. अधिकारी नियुक्त कर दिया गया। उन्होंने कहा कि यह कदम पूरी तरह से ग़ैर-वाजिब है, क्योंकि इससे यू.टी. के मामलों को चलाने में राज्यों के दरमियान संतुलन बिगड़ रहा है। भगवंत मान ने कहा कि यदि किसी कारण एस.एस.पी. कुलदीप सिंह चाहल को वापस भेजना ही था तो पहले पंजाब से आई.पी.एस. अधिकारियों का पैनल माँग लेना चाहिए था।

इस मामले में राज्यपाल के दख़ल की माँग करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार जल्द ही एस.एस.पी. चंडीगढ़ के पद के लिए पंजाब काडर के तीन आई.पी.एस. अधिकारियों का पैनल भेजेगी। उन्होंने उम्मीद ज़ाहिर की कि पंजाब काडर का आई.पी.एस. अधिकारी जल्द ही एस.एस.पी. चंडीगढ़ के पद पर नियुक्त होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Actress khushi kapoor Unseen Pictures उर्फ़ी जावेद का सबसे हॉट अवतार ढाया क़हर : Bollywood Update